चींटियों में कुछ ग्रंथियाँ होती हैं जिनसे फ़ैरोमोंस नामक रसायन निकलते हैं. इन्हीं के ज़रिए वो एक दूसरे के संपर्क में रहती हैं. चींटियों के दो स्पर्शश्रंगिकाएं या ऐंटिना होते हैं जिनसे वो सूंघने का काम करती हैं. रानी चींटी भोजन की तलाश में निकलती है तो फ़ैरोमोंस छोड़ती जाती है.
दूसरी चीटियाँ अपने ऐंटिना से उसे सूंघती हुई रानी चींटी के पीछे-पीछे चली जाती हैं. जब रानी चींटी एक ख़ास फ़ैरोमोन बनाना बंद कर देती है तो चीटियाँ, नई चींटी को रानी चुन लेती हैं. फ़ैरोमोंस का प्रयोग और बहुत सी स्थितियों में होता है. जैसे अगर कोई चींटी कुचल जाए तो चेतावनी के फ़ैरोमोन का रिसाव करती है जिससे बाक़ी चींटियाँ हमले के लिए तैयार हो जाती हैं. फ़ैरोमोंस से यह भी पता चलता है कि कौन सी चींटी किस कार्यदल का हिस्सा है.
Picture from web

How do ant move in a line?

There are some glands in the ants, from which chemicals called pharamomons are released. Through these they keep in touch with each other. Ants have two tangent or antennae, from which they act as sniffing. If the Queen goes out in search of food, then the pharmonans leave.
The other ants go behind their snuffing Queen Ants with their antsina. When the Queen ant stops making a special pharmonone, the ants choose the queen to the new ant. Use of pharmonos and in many situations. As if an ant is crushed, then the pharmonan leak of the warning, due to which the remaining ants are ready for attack. From pharmohns it also shows which ant is part of which work group
Reactions:

Post a Comment

Blogger

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: