DNS  कैसे का काम करता है ,DNS का पूरा नाम डोमेन नेम सिस्टम होता है , डोमेन नेम सिस्टम क्या होता है 

DNS= Domain Name System 

वेबसाइट खुद में एक  पता(address) है, जिसे यूआरएल(URL) कहा जाता है, और एक आईपी एड्रेस(IP Address) है। लोग वेबसाइटों को खोजने के लिए URL का उपयोग करते हैं, लेकिन कंप्यूटर वेबसाइटों को खोजने के लिए आईपी पते (IP address) का उपयोग करते हैं। डीएनएस आईपी पते(IP Address) को  यूआरएल(URL) में  अनुवाद(Translate) करता है। उदाहरण के लिए, यदि आप अपने वेब ब्राउज़र में एड्रेस बार में http://www.computerguidehindi.com टाइप करते हैं, तो आपका कंप्यूटर एक DNS सर्वर पर एक अनुरोध भेजता है। DNS सर्वर यूआरएल को एक आईपी पते(IP Address) में तब्दील करता है ताकि आपका कंप्यूटर computerguidehindi के  सर्वर को प्राप्त कर सके ।
यूजर चाहे तो इन्टरनेट पर उबलब्ध विभिन्न वेंडर से domain  को purchase कर सकता है जैसे godaddy,hostgator.
निचे कुछ DNS से सम्बंधित प्रश्न दिए गए है जो निम्न है .
क्या होता है DNS ? तथा DNS कैसे कार्य करता है ?


यूआरएल का अंतिम भाग क्या है?

URL के अंतिम भाग को top- level domain name(TLD) कहते है TLD विभिन प्रकार के वेबसाइट की पहचान करता है यह कुछ मुख्य TLD है जो क्यों stand है उनके बारे में जानेंगे.
DNS= Domain Name System

 DNS डायनामिक अपडेट क्या है?

कुछ कंप्यूटरों को जब भी वे इंटरनेट से जुड़ते हैं तो प्रत्येक कंप्यूटर को एक अलग आईपी पता(IP address) दिया जाता है।  इंटरनेट सेवा प्रदाता (आईएसपी) कई आईपी पते(IP address) का इस्तेमाल कई ग्राहकों को उसी तरीके से कर सकते हैं, लेकिन इसका मतलब है कि इंटरनेट पर आपके कंप्यूटर का पता(address) हमेशा बदल रहा है। यदि आप एक वेबसाइट की मेजबानी(Hosting) करते हैं, तो आप वेबसाइट का नाम बदलना नहीं चाहते हैं, भले ही आपका आईएसपी आईपी पता(IP address) बदलता है। DNS गतिशील (Dynamic)अद्यतन(Update) स्वचालित(Automatic) रूप से आपके नियत वेबसाइट के नाम और बदलते आईपी पते(IP address) के बीच के रिश्ते को बनाए रखता है(जोड़े रखता है) ताकि आपकी वेबसाइट इंटरनेट पर खोजना आसान हो।
एक DNS नाम या आईपी पते(Address) को कैसे देखूं?
इसके लिए जरुरी है की आप का कंप्यूटर इन्टरनेट जुडा हो .


  • सबसे पहले आप रन बॉक्स में CMD टाइप करके के कमांड प्रांप्ट को ओपन करे 
  • खुलने के बाद nslookup www.google.com टाइप करके इंटर करे ip address दिखने लगेगा .

DNS Cache क्या है ? 

जब आप अपने वेब ब्राउजर में एक वेब पता(address) लिखते हैं और एन्टर दबाते हैं, तो आप एक DNS सर्वर से एक क्वेरी भेज रहे हैं। अगर क्वेरी सफल होती है, तो आप जिस वेबसाइट को खोलना चाहते हैं; यदि नहीं खुलती है , तो आपको एक त्रुटि(error) संदेश दिखाई देगा। इन सफल और असफल प्रश्नों का एक रिकॉर्ड आपके कंप्यूटर पर एक अस्थायी भंडारण स्थान में संग्रहीत है जिसे DNS कैश कहा जाता है। डीएनएस हमेशा किसी भी DNS सर्वर से पूछताछ करने से पहले कैश की जांच करता है, और यदि एक रिकॉर्ड मिल गया है जो क्वेरी से मेल खाता है, तो DNS सर्वर से क्वेरी करने के बजाय उस रिकॉर्ड का उपयोग करता है। इससे प्रश्नों को तेज़ी से और नेटवर्क और इंटरनेट यातायात घट जाती है।

DNS Cache को देखने के लिए क्या करेंगे ?

  • कमांड प्रोमट को ओपन करे . 
  • कमांड प्रांप्ट में लिखे ipconfig/displaydns और इंटर दबाये .

DNS Cache को कैसे मिटाए ?

  • कमांड प्रोम्प्ट को ओपन करे 
  • कमांड प्रांप्ट में लिखे ipconfig/flushdns और इंटर दबाये 


मुझे पूर्ण आशा है की आपको इस पोस्ट में के बारे में सही तरीके समझा पाया हूँ. आप सभी पाठको से अनुरोध है की आप इस पोस्ट को अपने फ्रेंड और रिश्तेदारों में शेयर करे शायद आप एक शेयर किसी मदद कर सके , किसी की तलाश पूरी हो जाये , मुझे आप सब की सहयोग की आवश्यकता है जिससे मै और भी रोज नए नए जानकारी आपके साथ शेयर कर सकू.
हमारा हमेसा से ही यही प्रयास रहा है की मै अपने ब्लॉग के पाठको को हर तरफ से मदद करू . यदि आपको पोस्ट में किसी भी प्रकार के संदेह (डाउट) हो तो आप हमसे बेझिझक पूछे हम आप की मदद करने की पूरी कोशिस करेंगे . आपको हमारा यह पोस्ट कैसे लगा कमेंट बॉक्स में जरूर बताये .


Follow Us On Social Media - facebook   twitter  linkedin  youtube  instagram  

Reactions:

Post a Comment

Blogger

नए पोस्ट की जानकारी सीधे ई-मेल पर पायें

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: