*** *महासागर* ****
# I.A.S
➡ संपूर्ण जल भाग की *चार महासागरों* में विभाजित किया गया है : -
(1) प्रशान्त महासागर
(2) अटलांटिक महासागर
(3) हिन्द महासागर
(4)आर्कटिक महासागर
➡ संपूर्ण पृथ्वी के लगभग *3/4* भाग में जलमंडल का विस्तार है , इसलिए पृथ्वी को *जलीय ग्रह* भी कहा जाता है ।
➡ *बैगनर के अनुसार* , धरातल के 71.7% भाग पर जल एवं 28.3% भाग पर स्थल पाया जाता है। जबकि *क्रेमेल के अनुसार* , 70.8% भाग पर जल एवं 29.2% भाग पर स्थल पाया जाता है।
 *NCRT* किताब में : - *पृथ्वी के लगभग 71% भाग पर महासागर एवं 29% भाग पर स्थल या महाद्वीप का विस्तार है ।*
➡ पृथ्वी पर जल निम्न रूपो में पाया जाता है -
*महासागर            : -   97.2%*
*हिमनद                : -   2.05%*
*भूमिगत जल        : -   0.61%*
*झीलों में               : -   0.01%*
➡ महासागरीय गहराई को *फैदम* (फैदम बराबर 6 फीट) में मापा जाता है ।
➡ महासागर की गहराई का क्रम निम्न है : - (1) महाद्वीप मग्न तट , (2) महाद्वीपीय ढाल , (3) महाद्वीपीय उत्थान , (4) महासागरीय मैदान ।
➡ महासागरीय जल के दो महत्वपूर्ण गुण होते है : - *तापमान व लवणता*
  
        *तापमान*
➡ महासागरीय जल का तापमान *5 डिग्री - 33 डिग्री सेंटीग्रेट* के मध्य होता है ।
➡ सर्वाधिक तापमान *हिंद महासागर का 17.03 डिग्री C* है ।
➡ महासागरीय जल का *अधिकतम तापमान 2 PM पर* व *न्यूनतम तापमान प्रायः 5 AM पर* होता है ।
➡ सागर का *क्वथनांक बिंदु सामान्य जल से अधिक होता* है  ।
➡ बढ़ते अक्षाशों के साथ तापमान जे *घटने की दर 0.5 डिग्री C* है ।
         *लवणता* 
➡ सागरीय जल के भार व उसमे घुले हुए पदार्थो के भार के अनुपात को *सागरीय लवणता* कहा जाता है ।
➡ समान लवणीय स्थानों को मिलाने वाली रेखा *आइसोहेलाइन* कहलाती है तो लवणता मापी यंत्र *सेलीनो नेक्टर* है ।
➡ अधिक लवणता वाला सागर *देर से* जमता है तथा वाष्पीकरण *न्यून* होता है ।
➡ *कर्क व मकर* रेखा के पास *लवणता सर्वाधिक* पाई जाती है ।
➡ महासागरीय लवणता का औसत *35 ग्राम प्रति हजार* है जबकि *सर्वाधिक* लवणता वाला महासागर *अटलांटिक महासागर* (36 ग्राम प्रति हजार) है ।
➡ सर्वाधिक लवणता वाला सागर *भूमध्य सागर* 39 ग्राम प्रति हजार है ।
➡ *हिमनद* स्वच्छ जल के *सबसे विशाल* भंडार है ।

        *प्रशान्त महासागर*

➡ विश्व का सबसे बड़ा व सबसे गहरा महासागर है ।
➡ इस महासागर को *सुख समृद्धि* एवं *सम्पन्नता का देवता* कहा जाता है ।
➡ यह महासागर एशिया महाद्वीप से चार गुना बड़ा है । व कुल महासागरों के धरातल का 1/3 भाग घेरता है ।
➡ इस महासागर की आकृति *त्रिभुजाकार* है ।
➡ प्रशान्त महासागर को *जल गोलार्द्ध* भी कहा जाता है ।
➡ इसका आधार दक्षिण में *अंटार्कटीका महाद्वीप* एवं इसका शीर्ष उत्तर में *बेरिंग जलसंधि* , पश्चिम में *एशिया व ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप* जबकि पूर्व में *उत्तरी व दक्षिणी अमेरिका* है ।
    *- : यह भी जाने : -* 
✍ *प्रवाल भित्तियां* प्रशान्त महासागर की विशेषता है ।
✍ प्रशान्त महासागर की सतह का तापक्रम अन्य सभी महासागरों से अधिक ( 66.4 डिग्री फारेनहाइट ) होता है । इसी कारण यहां सर्वाधिक *भूकंप व ज्वालामुखी* आते है ।
✍ मध्य प्रशान्त महासागर में हवाईयन उभार प्रमुख है ।
✍ इसके बैसिन की औसत गहराई 7,300 मीटर है ।
✍ आधार तल् की दृष्टि से विश्व का सबसे ऊँचा पर्वत *मोनाकी* एक ज्वालामुखी पर्वत है ।
 *प्रशान्त महासागर के प्रमुख गर्त*
(1) *मेरियाना गर्त : -* पश्चिमी प्रशान्त महासागर 11022 मीटर
(2) *होंगा गर्त : -* मध्य दक्षिणी प्रशान्त महासागर 10882 मीटर
(3) *स्वायर गर्त : -* उत्तरी पश्चिमी प्रशान्त महासागर 10475 मीटर
(4) *क्यूरायल पर्वत : -* सखालीन द्वीप समूह 10498 मीटर
   *प्रमुख सीमांत सागर* 
➡ *बेरिंग ,आरफुरा ,रॉस ,तस्मान , जापान , चीन , पीत , कोरल सागर , अलास्का की खाड़ी , पनामा की खाड़ी आदि*
   *अटलांटिक महासागर*

➡ यह विश्व का *दूसरा सबसे बड़ा* महासागर है जिसे *अंध महासागर* भी कहते है ।
➡ इसका आकार *अंग्रेजी के ' S '* अक्षर के समान है ।
➡ इसकी औसत गहराई *4229 किमी* है विश्व में *औसत गहराई के आधार पर तीसरा स्थान* है ।
➡ विश्व की सबसे गर्म जलधारा *' गल्फ स्ट्रीम '* तथा सबसे ठंडी जलधारा *' लेब्रोडोर '* इसी महासागर में स्थित है ।
➡ इसके दोनों तरफ विकसित देश है । इस कारण *विश्व का 75%* अंतर्राष्ट्रीय व्यापार इसी महासागर के माध्यम से होता है ।
 *प्रमुख सीमांत सागर* 
➡ *कैरिबियन , उत्तरी सागर , मैक्सिको की खाड़ी हडसन की खाड़ी , लेब्रेडोर सागर , सेन्ट लॉरेन्स की खाड़ी , बैफिन की खाड़ी , इंग्लिश चैनल , भूमध्य सागर , गिनी की खाड़ी , कील नहर , फ्लोरिडा की खाड़ी , सेन्ट जॉर्ज चैनल , डावर जल संधि , नॉर्थ चैनल इत्यादि*
         *हिन्द महासागर*

➡ इसका उद्भव *' गोंडवाना लैंड '* के विभाजन के बाद हुआ जिसे प्राचीन भारतीय भूगोल के अंतर्गत *' रत्नाकर '* कहा गया है ।
➡ यह विश्व का *तीसरा बड़ा महासागर* है ।
➡ इस महासागर की आकृति *अंग्रेजी के *' M '* अक्षर के समान है । इसे *अर्द्ध महासागर* भी कहते है ।
➡ इस महासागर  में सोडियम क्लोराइड की मात्रा *सबसे कम* पाई जाती है । इसकी औसत गहराई 3950 किमी है ।
➡ इस महासागर को *' भारत '* दो भागों में विभाजित करता है : - *1. बंगाल की खाड़ी , 2. अरब सागर* ।
➡ *कर्क रेखा* इस महासागर की अंतिम उत्तरी सीमा ही ।
➡ *' डि एगो गार्सिया '* द्वीप ब्रिटिश शासन में ब्रिटिश अधिकारियों का औपनिवेशिक नौ सेना व वायु सेना का अड्डा है ।
 *अमरीका* का नौसैनिक हवाई अड्डा हिन्द महासागर के *डि एगो गार्सिया* में है ।
➡ *सोकोतेरा : - अदल की खाड़ी* में यह द्वीप है । यह *यमन देश* में है । यहां पर *एशिया* की सामरिक उपस्थिति है ।
➡ *कोकोद्वीप : - अंडमान निकोबार* का द्वीप है । *चाइना* की उपस्थिति है ।
➡ *हम्बनटोटा : - श्रीलंका* के ऊपर स्थित पोर्ट है जिस पर *चाइना* अपनी उपस्थिति कायम कर रहा है ।
    *प्रमुख सीमांत सागर*
➡ *बंगाल की खाड़ी , अरब सागर , अंडमान सागर , ग्रेट ऑस्ट्रेलियन व्हाइट , फारस की खाड़ी , अदन की खाड़ी , लाल सागर , मोजाम्बिक चैनल इत्यादि*
        *आर्कटिक महासागर*

➡ विश्व का *सबसे छोटा* महासागर है , जो उत्तरी ध्रुव के चारो ओर फैला हुआ है ।
➡ यह *एकमात्र महासागर* है जो *बर्फीला* है ।
➡ यह *बेरिंग जलसंधि* द्वारा *प्रशान्त मगसागर* एवं *डेनमार्क जलसंधि* द्वारा *अटलांटिक महासागर* से जुड़ा है ।
➡ इसकी आकृति *अंग्रेजी के ' D '* अक्षर के समान है ।
➡ यह एक गोलाकार *सबसे उथला* महासागर है
➡ आर्कटिक महासागर में *साईबेरियन शेल्फ* विश्व में *सबसे बड़ा मग्न तट* है जिसकी चौड़ाई 1500 किमी . है ।

Reactions:

Post a Comment

Blogger

Your Comment Will be Show after Approval , Thanks

नए पोस्ट की जानकारी सीधे ई-मेल पर पायें

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: