Computer Virus History In Hindi

कंप्यूटर वायरस के बारे में हम बात कर रहे थे की कंप्यूटर वायरस क्या होता है , कंप्यूटर वायरस की हिस्ट्री , या कहे तो कंप्यूटर में सबसे पहले फैलने वाला वायरस , या कहे तो आज के समय में तो पुरे नेटवर्क में वायरस हो गया है आपको शायद ही  कोई कोई नेटवर्क मिले जिसमे वायरस न हो लेकिन शायद आपको पता नहीं होगा की सबसे पहला नेटवर्क मेंफैलने वाला वायरस कौन सा था . आप किसी एग्जाम या किसी के पूछने पर जैसे की सबसे पहला वायरस का क्या नाम था . तो आप में से अधिकतर लोग क्रीपर वायरस ही बताएँगे लेकिन इसमें ध्यान देने योग्य कुछ बाते है जो आपको जानना जरुरी है .


computer virus history in hindi

फर्स्ट लिनक्स वायरस Biss था इसका कुछ मतलब नहीं निकलता है यह 1997 में बनायीं गयी थी जो कई Researcher ने बनायीं थी.
कंप्यूटर वायरस कितने प्रकार के होते है ?
 यह पता करने के लिए की लिनक्स या यूनिक्स जैसे ऑपरेटिंग सिस्टम में भी वायरस फैल सकता है क्या लेकिन यूनिक्स या लिनक्स नहीं हो सका , क्यों की इसके अंदर किसी भी काम को करने के लिए root  की परमिसन लेनी होती है लेकिन वायरस को यह परमिसन नहीं मिल पाता है . 



वायरस शब्द किसने खोज की 

फ्रेड कोहेन जो की एक अमेरिकी कंप्यूटर साइंटिस्ट थे इन्होने 1985 में वायरस शब्द को डिफाइन किया था . यानि कहे तो वायरस की शब्द का उपयोग किया था . 
राउटर में USB का उपयोग क्या है?



Full of VIRUS :Vital Information Resources Under Siege

फर्स्ट कंप्यूटर नेटवर्क वायरस क्या था ?

फर्स्ट नेटवर्क वायरस जो की क्रीपर के नाम से जाना जाता है , जो 1970 में ARPANET में फैला था . अर्पानेट का पूरा नाम एडवांस्ड रिसर्च प्रोजेक्ट एजेंसी नेटवर्क है . यह एक यूएस मिलिट्री डिफेंस का एक स्टेशन था जहा पर क्रीपर वायरस फैला था . यह एक एक्सपेरिमेंटल प्रोग्राम था उस समय इसे वॉर्म का नाम दिया गया था न की वायरस कहा जाता था . लेकिन क्रीपर वॉर्म को मिटने के लिए रे टॉमलिंसन ने एक प्रोग्राम बनाया जिसका नाम रीपर था . तो क्रीपर को ख़त्म करने के लिए बनाया गया था 1972 में . 
कंप्यूटर एक्सपर्ट कैसे बने , कंप्यूटर एक्सपर्ट बनने के अचूक उपाय .



फर्स्ट कंप्यूटर वायरस क्या था ?

1982 में रिच स्क्रेनटा ने एक गेम के तौर पर प्रोग्राम तैयार किया जो जिसका नाम Elk Cloner था , Elk cloner पहला microcomputer वायरस के नाम से जाना जाता है , इसने एप्पल की ऑपरेटिंग सिस्टम 3 .3 को इन्फेक्ट किया था, यह बूट सेक्टर का वायरस था . 
फोल्डर और डायरेक्टरी में क्या अंतर होता है ?
Elk cloner फर्स्ट कंप्यूटर वायरस था , क्रीपर फर्स्ट नेटवर्क वॉर्म (वायरस) था क्रीपर को मिटने के लिए रीपर एंटीवायरस का प्रयोग किया गया था . वायरस शब्द का खोज  1985 में किया गया था . 


Reactions:

Post a Comment

Blogger

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: