एक Keep-Alive एक संदेश है जो एक डिवाइस द्वारा दूसरे को भेजा जाता है ताकि यह जांचा जा सके कि दोनों के बीच की कड़ी काम कर रही है, या लिंक को टूटने से बचाने के लिए।

Keepalive का क्या अर्थ है? [What does keep alive mean?] [In Hindi]

एक कीपलाइव दो उपकरणों के बीच संबंध बनाए रखने के लिए एक डिवाइस से दूसरे डिवाइस पर भेजा जाने वाला सिग्नल है। यह क्लाइंट और सर्वर के बीच हो सकता है, लेकिन यह किसी भी डिवाइस या तकनीक पर लागू हो सकता है। एक खुले संचार मार्ग (open communication route) को बनाए रखने के लिए, या किसी दूरस्थ डिवाइस (remote device) से कनेक्शन की स्थिति को नियमित रूप से जांचने के लिए नेटवर्क वातावरण में Keepalives का उपयोग किया जाता है।

कीप-अलाइव क्या है? हिंदी में [What is Keep-Alive?] [In Hindi]

कीप-अलाइव एक HTTP हेडर है जो वेब सर्वर को वेब ब्राउज़र से कई अनुरोधों के लिए एकल कनेक्शन का उपयोग करने की अनुमति देता है। वेबसाइट के प्रदर्शन को बेहतर बनाने के लिए HTTP/1 चलाने वाले सर्वर अक्सर चालू रहते हैं। HTTP/2 में कीप-अलाइव हेडर का उपयोग नहीं किया जाता है क्योंकि यह HTTP/2 प्रोटोकॉल का डिफ़ॉल्ट व्यवहार है।
जब कीप-अलाइव को वेब सर्वर पर सक्षम किया जाता है, तो यह सर्वर और क्लाइंट (वेबसाइट विज़िटर) के बीच लगातार कनेक्शन बनाता है। टीसीपी कनेक्शन तब तक खुला रहता है जब तक कि यह बंद या टाइम आउट नहीं हो जाता। चूंकि प्रत्येक टीसीपी कनेक्शन को हैंडशेक प्रक्रिया को पूरा करना होगा, कई कनेक्शन पेज लोड समय को बढ़ाते हैं। Keep-Alive ब्राउज़रों को एक ही कनेक्शन पर सभी webpage properties, जैसे images और सीएसएस फ़ाइलों को डाउनलोड करने का एक तरीका प्रदान करता है।

कीप-अलाइव का क्या नुकसान है? हिंदी में [What is disadvantage of Keep-Alive?] [In Hindi]

Keep-Alive का नुकसान यह है कि इसके लिए वेब सर्वर से अधिक सिस्टम संसाधनों की आवश्यकता होती है। यदि किसी सर्वर पर वेबसाइटों को बहुत अधिक ट्रैफ़िक प्राप्त होता है, तो इसमें कई — संभवतः कई हज़ार — लगातार कनेक्शन एक साथ खुल सकते हैं। अंततः, सर्वर नए कनेक्शन को हैंडल करने और अनुत्तरदायी बनने में सक्षम नहीं हो सकता है। 
Keep-Alive क्या है? हिंदी में

कीप-अलाइव हैडर कैसे इनेबल करें? [How to enable Keep-Alive Header?] [In Hindi]

यदि आपके सर्वर पर कीप-अलाइव सक्षम नहीं है, तो इसे आपकी .htaccess फ़ाइल में निम्न कोड जोड़कर चालू किया जा सकता है:
<IfModule mod_headers.c>
    Header set Connection keep-alive
</IfModule>
'कनेक्शन कीप-अलाइव' हेडर के भीतर, निम्नलिखित दो निर्देश इसकी कार्यक्षमता को प्रभावित कर सकते हैं।
  1. MaxKeepAliveRequests - यह Instructions प्रत्येक Alive connection के लिए अनुरोधों की अधिकतम संख्या निर्धारित करता है। इस आंकड़े का निर्धारण करते समय, आपकी वेबसाइट पर उन फ़ाइलों की संख्या को ध्यान में रखना महत्वपूर्ण है, जिन्हें उपयोगकर्ता एक्सेस करना चाहता है।
  2. KeepAliveTimeout - यह Instruction उस समय को निर्धारित करता है जब एक सर्वर को एक नया टीसीपी कनेक्शन स्थापित करने से पहले उपयोगकर्ता के अनुरोधों की प्रतीक्षा करनी चाहिए। यह आंकड़ा इस आधार पर निर्धारित किया जाना चाहिए कि आपकी वेबसाइट कितनी बार देखी जाती है, यानी, उच्च ट्रैफ़िक वॉल्यूम वाली साइटें टीसीपी कनेक्शन अनुरोधों की संख्या को सीमित करने के लिए एक बड़ा टाइमआउट मान रखना चाहेंगी।

Post a Comment

Blogger

Your Comment Will be Show after Approval , Thanks

Sponsorship Ad

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: