What is router in hindi, in networking

routing जैसे की आपको नाम से अंदाजा लग रहा होगा ,यह एक मेथड होता है या way होता है जिसके थ्रू हमारे डाटा पैकेट हमारे नेटवर्क में सोर्स से डेस्टिनेशन फ्लो करते है routing वर्ड आया है वर्ड route से जिसको लोग रुट के नाम से जानते है अर्थात हम कह सकते है रास्ता . जिसके मदद से सोर्स से डेस्टिनेशन तक का रास्ता ढूढा जाता है यीस रास्ते को ढूढने के लिए यानि की routing के लिए एक डिवाइस का प्रयोग किया जाता है , जिसे राऊटर कहा जाता है . राऊटर वह डिवाइस होता है जिससे routing का टास्क परफॉर्म किया जाता है . यानि की यही वह डिवाइस है जिसकी हेल्प से एक नेटवर्क से दुसरे नेटवर्क तक का सबसे अच्छा रास्ता ढूढा जाता है राऊटर भी बेसिकली एक कंप्यूटर ही होता है लेकिन राऊटर स्पेसिफिकली डिजाईन किया गया होता है एक स्पेसिफिक टास्क के लिए जिसे routing बोला जाता है यानि की एक येसा कंप्यूटर जो की सिर्फ और सिर्फ बेस्ट पाथ ढूढने के लिए काम आता है हमारे नेटवर्क में , राऊटर को internetworking डिवाइस भी कहा जाता है




Routing क्या होता है || राउटिंग कैसे कार्य करता है ?




क्योकि इन्टरनेटवर्किंग हमारे लेयर 3 की फीचर है . और routing और इन्टरनेटवर्किंग दोनों ही लेयर 3 के ऊपर वर्क करती है दोनों ही किसी न किसी तरीके से इन्टरिलेटेड है क्योकि internetworking एक तरीका है दो या दो से अधिक नेटवर्क को कनेक्ट करने का जबकि routing उन नेटवर्क को एक जगह से दूसरी जगह पहुचने का जो सबसे अच्छा रास्ता होता है उसे ढूढने के प्रोसेस को routing कहा जाता है routing बिना लेयर 3 के पॉसिबल नहीं हो सकती है .यह  routing या इन्टरनेटवर्किंग दो lan के बिच हो सकता है . अर्थात यदि हमारे पास कुछ पीसी है और वो अलग अलग नेटवर्क में है तो उनको आपस में कम्यूनिकेट करने के लिए इन्टरनेटवर्किंग अर्थात राऊटर की आवश्यकता होती है . और इस तरह की routing को lan routing भी कहा जाता है . 

कंप्यूटर नेटवर्किंग के क्या फायदे है ?

इसी तरीके से इन्टरनेटवर्किंग वाइड एरिया नेटवर्क में भी फैली हो सकती है जैसे की आर्गेनाइजेशन के lan , मल्टीप्ल लोकेशन के ऊपर भी हो सकता है उनके बिच भी जब डाटा एक जगह से दूसरी जगह फ्लो करेगा और एक जगह से दूसरी जगह पहुचने का बेस्ट रास्ता ढूढा जायेगा , क्या क्या ढूढा जायेगा क्या क्या तरीका होता है इसे हम आगे जानेगे . routing हमारे lan और वैन में बेस्ट रास्ता ढूढने और उन्हें पहुचाने आदि को routing कहा जाता है 


राउटर में USB का उपयोग क्या है?



routing के हेल्प से एक नेटवर्क का डाटा दुसरे नेटवर्क तक पहुचता है . 
दो डिवाइस हो तथा दो नेटवर्क हो तो उनके बीच भी कम्युनिकेशन को पोसिबल किया जा सकता routing के मदद से . 
एक राऊटर सोर्स से डेस्टिनेशन तक डिलीवरी करने के लिए एक खास तरह का टेबल का प्रयोग करता है , जिसको routing टेबल कहा जाता है . routing टेबल के हेल्प से राऊटर यह अंदाजा लगाते है , की एक जगह से दूसरी जगह तक का बेस्ट पाथ क्या हो सकता है , ईस बेस्ट पाथ के इनफार्मेशन को एक टेबल में रखते है जिन्हें हम routing टेबल भी कहते है   


Reactions:

Post a Comment

Blogger

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: