शिपिंग में वीजीएम क्या है? [What is VGM in Shipping ?]

Verified Gross Mass (VGM) शिपिंग उद्योग में एक महत्वपूर्ण अवधारणा है, जिसे अंतरराष्ट्रीय नियमों के साथ सुरक्षा और अनुपालन बढ़ाने के लिए पेश किया गया है। इसमें किसी पैक किए गए कंटेनर को जहाज पर लादने से पहले उसके कुल वजन का सटीक माप और सत्यापन शामिल है। इस अभ्यास का उद्देश्य दुर्घटनाओं को रोकना, उचित भंडारण सुनिश्चित करना और समुद्र में जीवन की सुरक्षा (एसओएलएएस) सम्मेलन का अनुपालन करना है।
VGM in Shipping

सत्यापित सकल द्रव्यमान (वीजीएम) की परिभाषा (Definition of Verified Gross Mass (VGM)):

Verified Gross Mass (VGM) एक पैक किए गए कंटेनर के कुल वजन को संदर्भित करता है, जिसमें इसकी सामग्री और किसी भी पैकेजिंग सामग्री शामिल है। वीजीएम को अनुमोदित और कैलिब्रेटेड वजन उपकरणों का उपयोग करके पूरे कंटेनर के वजन के माध्यम से निर्धारित किया जाना चाहिए। फिर यह जानकारी जहाज पर सुरक्षित लोडिंग सुनिश्चित करने के लिए शिपिंग लाइन और टर्मिनल सहित संबंधित पक्षों को सूचित की जाती है।

विनियम और अनुपालन (Regulations and Compliance):

अंतर्राष्ट्रीय समुद्री संगठन (आईएमओ) ने समुद्र में जीवन की सुरक्षा (एसओएलएएस) सम्मेलन के माध्यम से वीजीएम से संबंधित नए नियम पेश किए। SOLAS नियम, जो 1 जुलाई, 2016 को लागू हुए, आदेश देते हैं कि जहाज पर कंटेनर लोड करने से पहले शिपर्स वाहक और टर्मिनल ऑपरेटर को पैक किए गए कंटेनरों की वीजीएम प्रदान करने के लिए जिम्मेदार हैं।
वीजीएम विनियमों से संबंधित मुख्य बिंदुओं में शामिल हैं:
  • शिपिंगकर्ता की जिम्मेदारी (Shipper's Responsibility):
पैक किए गए कंटेनर के वीजीएम को प्राप्त करने और उसका दस्तावेजीकरण करने के लिए शिपर्स जिम्मेदार हैं। उन्हें कैलिब्रेटेड वजन उपकरण का उपयोग करना चाहिए और सटीक माप के लिए अनुमोदित तरीकों का पालन करना चाहिए।
  • वीजीएम प्रस्तुत करना (Submission of VGM):
शिपर्स को उचित भंडारण योजना के लिए वीजीएम जानकारी वाहक और टर्मिनल को पर्याप्त रूप से पहले से जमा करने की आवश्यकता होती है।
  • कोई वीजीएम नहीं, कोई लोड नीति नहीं (No VGM, No Load Policy):
यदि वीजीएम प्रदान नहीं किया गया है, या यदि यह गलत तरीके से दस्तावेजित है, तो कंटेनर को जहाज पर लोड नहीं किया जा सकता है। यह "नो वीजीएम, नो लोड" नीति अनुपालन के महत्व पर जोर देती है।
  • स्वीकृत वजन के तरीके (Approved Weighing Methods):
SOLAS नियम वीजीएम निर्धारित करने में लचीलापन प्रदान करते हैं, जिससे शिपर्स को या तो विधि 1 (पूरे पैक किए गए कंटेनर का वजन करना) या विधि 2 (पैलेट और अन्य पैकिंग सामग्री के द्रव्यमान सहित सभी पैकेज और कार्गो वस्तुओं का वजन करना, और तारे का द्रव्यमान जोड़ना) का उपयोग करने की अनुमति मिलती है। कंटेनर का)

शिपिंग में सत्यापित सकल द्रव्यमान (वीजीएम) का महत्व (Significance of Verified Gross Mass (VGM) in Shipping):

  • समुद्र में सुरक्षा (Safety at Sea):
समुद्री संचालन की सुरक्षा के लिए वीजीएम का सटीक निर्धारण महत्वपूर्ण है। अधिक वजन वाले कंटेनर लोडिंग, अनलोडिंग और समुद्र में गंभीर जोखिम पैदा कर सकते हैं।
  • भंडारण योजना (Stowage Planning):
अग्रिम में वीजीएम उपलब्ध कराने से वाहक और टर्मिनल ऑपरेटरों को जहाज पर कंटेनरों के भंडारण की योजना बनाने में मदद मिलती है, जिससे वजन का अच्छी तरह से संतुलित और सुरक्षित वितरण सुनिश्चित होता है।
  • विनियामक अनुपालन (Regulatory Compliance):
SOLAS VGM नियमों का अनुपालन अनिवार्य है। सुरक्षा मानकों को बनाए रखने और दंड से बचने के लिए शिपर्स, वाहक और टर्मिनल ऑपरेटरों को इन नियमों का पालन करना होगा।
  • दुर्घटनाओं की रोकथाम (Prevention of Accident):
सटीक वीजीएम जानकारी कंटेनर स्टैक ढहने और पोत स्थिरता के मुद्दों जैसी दुर्घटनाओं को रोकने में मदद करती है, जिससे समुद्री श्रमिकों और कार्गो दोनों की सुरक्षा होती है।
  • संचालन में दक्षता (Efficiency in Operations):
वीजीएम प्रक्रियाओं को लागू करने से लोडिंग प्रक्रियाओं को सुव्यवस्थित करने और देरी को कम करके पोर्ट संचालन की समग्र दक्षता में योगदान होता है। Shipping में Vessel क्या है?

वास्तविक दुनिया का उदाहरण (Real-World Example):

ऐसे परिदृश्य पर विचार करें जहां एशिया में एक शिपिंगर यूरोप में निर्यात के लिए एक कंटेनर तैयार कर रहा है। शिपर अनुमोदित वजन उपकरण का उपयोग करके पैक किए गए कंटेनर का सटीक वजन करता है और वीजीएम जानकारी शिपिंग लाइन और टर्मिनल को सबमिट करता है। यह उचित भंडारण योजना की अनुमति देता है, SOLAS नियमों का अनुपालन सुनिश्चित करता है, और माल के सुरक्षित और कुशल परिवहन में योगदान देता है।
निष्कर्ष (Conclusion):
सत्यापित सकल द्रव्यमान (वीजीएम) आधुनिक शिपिंग संचालन में एक महत्वपूर्ण तत्व है, जिसे सुरक्षा बढ़ाने, दुर्घटनाओं को रोकने और अंतरराष्ट्रीय नियमों का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए पेश किया गया है। शिपर्स, कैरियर और टर्मिनल ऑपरेटर वीजीएम आवश्यकताओं को लागू करने और उनका पालन करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, जिससे समुद्री परिवहन की समग्र सुरक्षा और दक्षता में योगदान होता है।
References:
  • International Maritime Organization (IMO). (2014). SOLAS - International Convention for the Safety of Life at Sea.
  • International Maritime Organization (IMO). (2016). MSC.1/Circ.1475 - Guidelines regarding the verified gross mass of a container carrying cargo.

Post a Comment

Blogger

Your Comment Will be Show after Approval , Thanks

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: