प्राइवेट ब्राउज़िंग क्या है? [What is private browsing? in Hindi]

एक बुनियादी स्तर पर, Privacy दूसरों द्वारा देखे जाने या परेशान होने से मुक्त (Free) होने की स्थिति है। Cyber Universe में, information Privacy आपके अधिकार से संबंधित है कि आपके व्यक्तिगत डेटा (Personal Data) को कैसे एकत्र किया जाए और कैसे उपयोग किया जाए। आपकी Privacy महत्वपूर्ण है, क्योंकि आपकी व्यक्तिगत जानकारी (personal information) का मूल्य (value) है, जिसमें Identity thief और अन्य साइबर अपराधी शामिल हैं जो इसे Dark Web पर बेच सकते हैं।

लेकिन जब आप ऑनलाइन जाते हैं, तो वेब ब्राउज़र आपकी खोजों (Search) और ऑनलाइन गतिविधि(Online Activity) के बारे में डेटा संग्रहीत(Store) कर सकते हैं ताकि वेबसाइटों को फिर से देखना आपके लिए आसान हो सके। लॉग-इन प्रक्रिया को तेज करने के लिए ब्राउज़र आपके उपयोगकर्ता नाम और पासवर्ड (User name and Password) जैसी वेब-आधारित सामग्री(Content) को संग्रहीत(Store) कर सकते हैं। यह अल्पावधि(short term) में मददगार हो सकता है, लेकिन आप अन्य उपयोगकर्ताओं(Users) के साथ साझा(Share) की गई जानकारी नहीं चाहते हैं।

वेब ब्राउज़रों द्वारा दी जाने वाली निजी ब्राउज़िंग सुविधाएँ इसे संबोधित करने में मदद कर सकती हैं। निजी ब्राउज़िंग सेटिंग चालू होने पर, वे आपके इंटरनेट सत्रों (Internet Secession) को उसी कंप्यूटर या डिवाइस के अन्य उपयोगकर्ताओं (Users)से निजी(Private) रखने में मदद करते हैं। निजी ब्राउज़िंग मोड आपके अस्थायी ब्राउज़िंग डेटा - ब्राउज़िंग इतिहास, खोज रिकॉर्ड(Search Record), और कुकीज़ को बनाए नहीं रख सकते - जो अन्यथा वेब ब्राउज़र द्वारा सहेजे जा सकते हैं। कुछ निजी ब्राउज़िंग मोड उन फ़ाइलों को मिटा सकते हैं जिन्हें आपने डाउनलोड या बुकमार्क किया है। कुछ ट्रैकिंग सुरक्षा भी प्रदान करते हैं और अपने स्थान को छिपाने (Hide) में मदद करते हैं।

तो, यहाँ सवाल यह है कि क्या निजी-ब्राउज़िंग सुविधाएँ Privacy प्रदान करती हैं?

उत्तर? निजी ब्राउज़िंग (Private Browsing)और गुप्त मोड(Incognito mode) आपके ऑनलाइन Privacy की पूरी तरह से रक्षा नहीं करते हैं। वे कुल गुमनामी (Total anonymity) या डेटा सुरक्षा प्रदान नहीं करते हैं।




निजी ब्राउजिंग का क्या अर्थ है? [What does private browsing mean?in Hindi]

निजी ब्राउज़िंग(Private Browsing) कुछ वेब ब्राउज़र में मौजूद एक Privacy सुविधा है जो वेब कैश, कुकीज़, ब्राउज़िंग इतिहास या किसी अन्य ट्रैकिंग सुविधा को अक्षम(Disabled) करती है जो ब्राउज़र में हो सकती है। यह उपयोगकर्ता(Users) को स्थानीय डेटा (Local data) जैसे निशान को छोड़ने के बिना वेब ब्राउज़ करने की अनुमति देता है जिसे बाद में पुनर्प्राप्त किया जा सकता है। निजी ब्राउज़िंग की एक प्रमुख विशेषता कुकीज़ के माध्यम से डेटा भंडारण को अक्षम (Disabled) करना है, जो वेबसाइटों को उपयोगकर्ता(Users) की गतिविधियों (Activity) को ट्रैक करने और रिकॉर्ड करने का एक तरीका है।

निजी ब्राउज़िंग को Privacy मोड या गुप्त मोड(Incognito mode) के रूप में भी जाना जाता है।
निजी ब्राउजिंग एक ऐसी Mode है जहां वेब ब्राउजर की सभी Privacy सुविधाओं को बिना मैन्युअल रूप से सेट किए, जैसे कुकीज़ को बंद करने और ब्राउज़िंग इतिहास(Browsing History) को साफ़ (Clear) करने के लिए सक्रिय(Active) किया जाता है। निजी ब्राउज़िंग मोड (Private Browsing Mode) का उपयोग करते समय इस डेटा को संग्रहीत (Store) नहीं किया जाता है। यह मई 2005 में व्यापक रूप से उपलब्ध हो गया, जब इसे मैक OS X Tiger के साथ आए सफारी ब्राउज़र में शामिल किया गया था।

निजी ब्राउज़िंग(Private Browsing) अनिवार्य रूप से स्थानीय मशीन (local Machine) से उपयोगकर्ता की वेब गतिविधियों(Web Activity) के किसी भी ट्रैकिंग को हटा देती है, और विस्तार से, उपयोगकर्ता द्वारा देखी जाने वाली वेबसाइट। सबसे अच्छा उदाहरण कुकीज़ का उपयोग है, जो वेबसाइटों द्वारा उपयोगकर्ता की गतिविधियों को ट्रैक करने और डेटा को स्टोर करने के लिए उपयोग किया जाता है। उदाहरण के लिए, इसका उपयोग अमेज़ॅन जैसी वेबसाइटों द्वारा उपयोगकर्ता के पहले के ब्राउज किए गए उत्पादों को जानने के लिए किया जाता है और ब्राउज़र बंद होने के बाद भी उपयोगकर्ता को साइट पर लॉग इन रखा जाता है और कंप्यूटर बंद हो जाता है। यह समस्याग्रस्त (Problematic) हो सकता है क्योंकि कुकीज़ को अक्सर उपयोगकर्ता सुविधा के लिए उपयोग किया जाता है, जैसे कि हर बार ब्राउज़र बंद होने या फिर ऑनलाइन स्टोर में देखे गए उत्पादों के लिए फिर से खोज न करने के लिए फिर से लॉग इन न करना। ज्यादातर मामलों में निजी ब्राउज़िंग का उपयोग करने का मुख्य कारण यदि कोई सार्वजनिक कंप्यूटर का उपयोग कर रहा है। यह उपयोगकर्ता को लॉगआउट करने या ब्राउज़िंग इतिहास को मैन्युअल रूप से खाली करने की परेशानी से बचाता है।




निजी में ब्राउज़ करने का क्या मतलब है? [What does it mean to browse in private? in Hindi]


जब आप निजी-ब्राउज़िंग मोड में किसी वेबसाइट पर जाते हैं, तो आपका ब्राउज़र किसी भी इतिहास, कुकीज़, फ़ॉर्म डेटा - या किसी अन्य चीज़ को संग्रहीत नहीं करेगा। ... निजी ब्राउज़िंग आपके ब्राउज़िंग इतिहास में आपके कंप्यूटर के उपयोग के साथ लोगों की सुरक्षा करता है - आपका ब्राउज़र आपके कंप्यूटर पर कोई भी ट्रैक नहीं छोड़ेगा।

क्या सफारी पर निजी मोड सुरक्षित है? [Is private mode safe on Safari?]

अपनी गोपनीयता की रक्षा के लिए सफारी में Dark करें

वेब पर गुप्त रहना कठिन है। यह एक वेब ब्राउज़र में भी सच है। कोई भी ब्राउजिंग सत्र (Browsing Secession) जानकारी के पीछे छोड़ देता है जैसे कि ब्राउज़र इतिहास(Browser History) में देखी गई साइटें। अपने ब्राउज़िंग इतिहास को दूसरों द्वारा सहेजे और देखे जाने से बचाने के लिए, निजी ब्राउज़िंग का उपयोग करें।




क्या सफारी निजी वास्तव में निजी है? [Is Safari Private really private? in Hindi]


निजी ब्राउज़िंग मोड एक ही कंप्यूटर पर अन्य उपयोगकर्ताओं से आपका इतिहास (History) छिपाएगा, लेकिन यह अभी भी आपके कंप्यूटर से बंधा होगा। सफारी, Google क्रोम, फ़ायरफ़ॉक्स, ओपेरा और इंटरनेट एक्सप्लोरर सभी में निजी ब्राउज़िंग मोड (Private Browsing Mode)हैं जिनका उपयोग करके आप सुनिश्चित कर सकते हैं कि आपके द्वारा देखी जाने वाली वेबसाइट आपके ब्राउज़िंग इतिहास में दिखाई न दें।





क्या मुझे निजी ब्राउज़िंग का उपयोग करना चाहिए? [Should I use private browsing?]


निजी ब्राउज़िंग कुकीज़ को आपके कंप्यूटर पर संग्रहीत(Store) होने से भी रोकती है। एक सामान्य ब्राउज़िंग सत्र(Browsing Secession) में, फेसबुक जैसी साइटें आपके द्वारा देखी गई साइटों और पृष्ठों(Pages) के आधार पर अत्यधिक लक्षित विज्ञापनों(Targeted Advertisement) के साथ आपको लुभाएंगी। लेकिन निजी ब्राउज़िंग मोड में, आपकी इंटरनेट गतिविधि का उपयोग मार्केटिंग कंपनियों द्वारा आपके खिलाफ नहीं किया जाएगा।

Post a comment

Blogger

Your Comment Will be Show after Approval , Thanks

नए पोस्ट की जानकारी सीधे ई-मेल पर पायें

Sponsorship Ad

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: