नेटवर्किंग का परिचय , Introduction Of Networking

नेटवर्क एक एसा साधन है . जिसके दवरा हम सूचनाओ व डेटा को एक जगह से  दुसरी जगह भेज सकते है नेटवर्क को कई रूपों मे प्रयोग किया जाता है जैसे टेलीफोन नेटवर्क, मोबाइल नेटवर्क, केबल नेटवर्क, कम्प्यूटर नेटवर्क इत्यादी. आज कम्पूटर नेटवर्क का छेत्र इतना विस्तृत हो चुका है की यह सभी सरकारी व गैरसरकारी संस्थओ की आवश्यकता बन गया है उदहारण:- यदि रेलवे या शेयर मार्केट का कंप्यूटर नेटवर्क कुछ छड़ो के लिए भी बंद हो जाये तो देश के लिए यह यह भारी नुकसान होगा .





छेत्र चाहे शिक्षा का हो , व्यापार का हो , परिवहन का हो बैंको का 
हो या खेल का हो सभी जगह कंप्यूटर नेटवर्किंग एक प्राथमिक आवश्यकता बन चूका हैबचपन से ही हमने बुजुर्गो से सुनते आये है की “एक से भले दो“ या “एक और एक ग्यारह” होते है . .......कहने का अर्थ सही है की एक से अधिक ब्यक्ति मिल कर संगठित हो कर अपने निजी छमताओ का साधारण योग से अधिक उत्पादक हो सकते है .  
नेटवर्किंग का परिचय , Introduction Of Networking
Reactions:

Post a Comment

Blogger

नए पोस्ट की जानकारी सीधे ई-मेल पर पायें

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: