यदि आप एक entrepreneur हैं और एक नया व्यवसाय (Business) शुरू करना चाहते हैं या अपने मौजूदा व्यवसाय का विस्तार करना चाहते हैं, तो आप अपनी वित्तीय आवश्यकताओं (Financial Requirements) को पूरा करने या कार्यशील पूंजी (Working capital) आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए व्यापार ऋण (Business loan) लेने या ओवरड्राफ्ट करने के बारे में सोच सकते हैं। दोनों वित्तीय उत्पादों(Financial Products) के लिए उधारकर्ता (Borrower) को धन का समर्थन (Support) प्रदान करने के लिए होती हैं, लेकिन वे विशिष्ट विशेषताएं और प्रकृति (nature) है ।

बिजनेस लोन या ओवरड्राफ्ट - कौन सा बेहतर है? [Business Loan or Overdraft – Which is Better Option?] [In Hindi]

सवाल उठता है कि कौन सा क्रेडिट ऑप्शन बेहतर है? जवाब पूरी तरह से आपकी वित्तीय आवश्यकताओं पर निर्भर करता है। इसके अलावा, आइए इन दो क्रेडिट सुविधाओं की कुछ बुनियादी विशेषताओं और तुलना पर चर्चा करते हैं जो आपके लिए निर्णय लेना आसान बनाता है। एक छोटा व्यवसाय ऋण क्या है? [What is a Small Business Loan?]

बिजनेस लोन क्या है? [What is a Business Loan?] [In Hindi]

एक बिजनेस लोन को असुरक्षित लोन (Unsecured loan) के रूप में भी जाना जाता है। हालांकि, कुछ मामलों में, व्यावसायिक ऋण (Business loan) सुरक्षित किए जा सकते हैं और ऋणदाता (creditor) को जमानत(collateral) प्रस्तुत करने की आवश्यकता होती है। यह ऋण (Loan) विभिन्न व्यावसायिक उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिए उपयोगी है, जैसे व्यापार का विस्तार, कामकाजी पूंजी की जरूरतों को पूरा करना, संपत्ति या भूमि खरीदना, संयंत्र या मशीनरी की खरीद, कर्मचारियों की भर्ती, कच्चे माल की खरीद, स्टॉक और इन्वेंट्री में वृद्धि आदि।
Business Loan या Overdraft - कौन सा बेहतर है?

यह कैसे काम करता है? [How does it work?] [In Hindi]

जब आप एक व्यापार ऋण (Business loan) के लिए आवेदन (Apply) करते हैं, तो उधारदाता (lender) आपको भारी मात्रा में धन उधार लेने की अनुमति देते हैं। इसके बाद आप फिक्स्ड मासिक ईएमआई के रूप में ब्याज के साथ लोन की रकम (मूलधन) चुकाते हैं। आप जिस राशि के लिए पात्र (Eligible) हैं, वह कई कारकों पर निर्भर करती है जैसे - Borrower's Profile, Business Vintage, Years experience, Financial Status, Credit History, Credit Score आदि।
व्यापार ऋण (Business Loan) दो व्यापक प्रकार में वर्गीकृत किया जा सकता है:
  • सुरक्षित ऋण (Secured Loan) - यहां, आप ऋण प्राप्त करने के लिए जमानत या संपत्ति की प्रतिज्ञा करते हैं।
  • असुरक्षित ऋण (Unsecured Loan) - इन ऋणों (Loans) के लिए आपको कोई जमानत (Collateral) जमा करने की आवश्यकता नहीं है। हालांकि, असुरक्षित ऋणों (Unsecured Loan) की ब्याज दरें सुरक्षित ऋणों (Secured loan) की तुलना में अधिक हैं।

ओवरड्राफ्ट क्या है? [What is overdraft?] [In Hindi]

ओवरड्राफ्ट एक क्रेडिट सुविधा है जो शून्य बैलेंस के मामले में भी चालू खाते (Current account) से पैसे निकालने की अनुमति देता है। यह ओवरड्राफ्ट सुविधा अल्पकालिक व्यावसायिक उद्देश्यों और आवश्यकताओं को पूरा करने और आपात स्थिति (emergency) के दौरान उपयोगी है। ब्याज दर (Interest rate) या निकासी पर लगाया गया ओवरड्राफ्ट शुल्क इस सुविधा का लाभ उठाने वाले वित्तीय संस्थान (Financial Institutions) द्वारा निर्धारित किया जाता है, और यह बैंक के अनुसार भिन्न होता है। इसके अलावा, कोई भी अपने खाते की क्रेडिट बैलेंस के ऊपर और ऊपर पैसा उधार ले सकता है।

यह कैसे काम करता है? [How does it work?] [In Hindi] 

क्रेडिट लिमिट जिस तक आप अपने अकाउंट से पैसे निकाल सकते हैं, उसे ओवरड्राफ्ट लिमिट के नाम से जाना जाता है। एक बार जब आप इस सीमा (Limit) तक धन का उपयोग कर लेते हैं, तो आप आगे कोई भी वापस नहीं ले सकते हैं। टर्म लोन और ओवरड्राफ्ट के बीच एक महत्वपूर्ण अंतर यह है कि ओवरड्राफ्ट एक प्रकार का परिक्रामी ऋण (Cycling loan) है। एक विशिष्ट कार्यकाल (specific tenure) के भीतर उधार की गई राशि को चुकाने के बजाय, एक ओडी में, आप एक ही समय में उधार लेना और चुकाना जारी रख सकते हैं। Top 07 Mistake Business Loan के लिए Apply करते समय
आम तौर पर ज्यादातर बैंक उन ग्राहकों को ओडी सुविधाएं देते हैं, जिनका बैंक के साथ अच्छा तालमेल होता है और समय पर कर्ज चुकाते हैं । यदि आप चाहें तो हर साल ओडी सुविधा का नवीनीकरण (renewing) किया जा सकता है । जब आप ओडी सुविधा का विकल्प चुनते हैं, तो आप बैंक को विशिष्ट शुल्क का भुगतान करते हैं। जब आप एक OD चुनते हैं, तो आप केवल आपके द्वारा उपयोग की जाने वाली अतिरिक्त राशि (Additional amount) पर ब्याज का भुगतान करते हैं, न कि आपके लिए उपलब्ध पूरी सीमा (Whole limit) पर।

मुझे कौन सा चुनना चाहिए? ओवरड्राफ्ट या बिजनेस लोन? [Which one should I choose? Overdraft or business loan?] [In Hindi]

जैसा कि ऊपर बताया गया है, उत्तर सरल नहीं है। आपके लिए सही उत्पाद (right product) कई कारकों पर निर्भर करता है। आइए आपको विभिन्न कारकों (Various factors) के तहत इन दोनों उत्पादों की तुलना करके सही विकल्प बनाने में मदद करें।
  • ऋण राशि की मात्रा [Amount of loan amount]
यदि आप बड़ी रकम के लिए देख रहे हैं, तो व्यापार ऋण (Business Loans) बेहतर विकल्प हैं । क्रेडिट कार्ड खर्च के रूप में ओवरड्राफ्ट पर विचार करें। आपके व्यवसाय को एक विशेष राशि (special amount) स्वीकृत की जाएगी, जिसे आप अपनी आवश्यकताओं के आधार पर हर दिन थोड़ा-थोड़ा करके निकाल सकते हैं। 
दूसरी ओर, व्यावसायिक ऋण (commercial credit) के साथ, पूरी राशि आपको एक ही किस्त में उपलब्ध कराई जाती है।
  • ब्याज दरें [Interest Rates]
आम तौर पर, ओडी के लिए ब्याज दरें (Interest rate) व्यावसायिक ऋण (commercial credit) की तुलना में अधिक होती हैं। हालांकि, ध्यान दें कि एक ओडी में, ब्याज केवल उस राशि पर लिया जाता है जिसे आप वापस लेते हैं और आपको स्वीकृत पूरी क्रेडिट सीमा (Credit limit) नहीं होती है। दूसरी ओर, एक व्यावसायिक ऋण में, आपके द्वारा उधार ली गई पूरी राशि पर ब्याज लिया जाता है, चाहे आप इसका उपयोग करें या नहीं।
  • मियाद [limit] 
आम तौर पर, एक वर्ष कहते हैं, एक छोटी अवधि के लिए ODs स्वीकृत किए जाते हैं। यदि आपको आगामी वर्ष (Next Year) के लिए सुविधा की आवश्यकता है तो आपको कार्यकाल (Tenure) के अंत में इसे नवीनीकृत (Upgrade) करना होगा।
व्यापार ऋण (Business Loans) आम तौर पर लंबी शर्तों के लिए उपलब्ध हैं, 3 से 25 साल कहते हैं, ऋणदाता (creditor) के मापदंड के आधार पर । टॉप 10 बिजनेस आइडिया (Business Idea) क्या है?
  • उपयोग [utility] 
ओवरड्राफ्ट नियमित दिन-प्रतिदिन की कार्यशील पूंजी (Working capital) आवश्यकताओं जैसे इन्वेंट्री रखरखाव, कर्मचारियों के वेतन भुगतान आदि के लिए आदर्श है। व्यावसायिक ऋण (commercial credit) अधिक विस्तारित और बड़े बजट के निवेश जैसे मशीनरी प्राप्त करने, व्यापार विस्तार, वाणिज्यिक संपत्ति की खरीद आदि के लिए उपयुक्त हैं।
  • भुगतान का लचीलापन [Flexibility of payment] 
जब भुगतान की बात आती है तो ओवरड्राफ्ट अधिक लचीला होते हैं। आप ओडी चुकाने के लिए अपने खाते में निकाली गई राशि के बराबर राशि जमा कर सकते हैं। दूसरी ओर, व्यापार ऋण (Business Loan) निश्चित ईएमआई के रूप में चुकाए जाते हैं। ईएमआई भुगतान (EMI Payment) में विफलता या देरी आपके क्रेडिट स्कोर को नीचे खींच सकती है, जिससे भविष्य के क्रेडिट के लिए आपकी क्षमता प्रभावित हो सकती है।

Post a comment

Blogger

Your Comment Will be Show after Approval , Thanks

Sponsorship Ad

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: