डिविडेंड यील्ड या डिविडेंड-प्राइस रेशियो एक शेयर का डिविडेंड प्रति शेयर होता है, जिसे कीमत प्रति शेयर से विभाजित किया जाता है। यह कंपनी का कुल वार्षिक लाभांश भुगतान भी उसके बाजार पूंजीकरण से विभाजित है, यह मानते हुए कि शेयरों की संख्या स्थिर है। इसे अक्सर प्रतिशत के रूप में व्यक्त किया जाता है।

डिविडेंड यील्ड क्या है? [What is Dividend Yield?In Hindi]

Dividend Yield, प्रतिशत के रूप में व्यक्त, एक वित्तीय अनुपात (लाभांश/मूल्य) है जो दर्शाता है कि कंपनी अपने स्टॉक मूल्य के सापेक्ष प्रत्येक वर्ष लाभांश में कितना भुगतान करती है।
लाभांश उपज का पारस्परिक मूल्य/लाभांश अनुपात है।

'लाभांश यील्ड' की परिभाषा [Definition of "Dividend Yield"] [In Hindi]

डिविडेंड यील्ड वित्तीय अनुपात है जो प्रति शेयर बाजार मूल्य के सापेक्ष शेयरधारकों को भुगतान किए गए नकद लाभांश की मात्रा को मापता है। इसकी गणना प्रति शेयर लाभांश को बाजार मूल्य प्रति शेयर से विभाजित करके और परिणाम को 100 से गुणा करके की जाती है। उच्च लाभांश उपज वाली कंपनी लाभांश के रूप में अपने मुनाफे का एक बड़ा हिस्सा देती है। किसी कंपनी की लाभांश उपज की तुलना हमेशा उस उद्योग के औसत से की जाती है जिससे कंपनी संबंधित है।
Dividend Yield क्या है?

उद्योगों में लाभांश प्रतिफल अनुपात [Dividend Return Ratio across Industries] [In Hindi]

Dividend yield ratio की तुलना केवल उसी उद्योग में काम करने वाली कंपनियों के लिए की जानी चाहिए - उद्योगों के बीच औसत उपज काफी भिन्न होती है। कई उद्योगों के लिए औसत लाभांश उपज इस प्रकार है:
  • Basic materials industry: 4.92% 
  • Financial services industry: 4.17% 
  • Healthcare industry: 2.28% 
  • Industrial industry: 1.76% 
  • Services industry: 2.37% 
  • Technology industry: 3.2% 
  • Utility industry: 3.96%

क्या उच्च लाभांश प्रतिफल अच्छा है? [Is High Dividend Return Good?] [In Hindi]

Yield-oriented investors आमतौर पर उन कंपनियों की तलाश करेंगे जो उच्च लाभांश प्रतिफल की पेशकश करती हैं, लेकिन उच्च उपज के लिए परिस्थितियों को समझने के लिए गहराई से खुदाई करना महत्वपूर्ण है। निवेशकों द्वारा लिया गया एक दृष्टिकोण उन कंपनियों पर ध्यान केंद्रित करना है जिनके पास अपने लाभांश को बनाए रखने या बढ़ाने का एक लंबा ट्रैक रिकॉर्ड है, साथ ही यह भी सत्यापित करता है कि उन कंपनियों के पास भविष्य में अच्छी तरह से लाभांश का भुगतान जारी रखने के लिए अंतर्निहित वित्तीय ताकत है। ऐसा करने के लिए, निवेशक अन्य मेट्रिक्स जैसे वर्तमान अनुपात और लाभांश भुगतान अनुपात का उल्लेख कर सकते हैं। Derivative क्या हैं?

लाभांश प्रतिफल क्यों महत्वपूर्ण है? [Why is dividend yield important?] [In Hindi]

कुछ निवेशक, जैसे सेवानिवृत्त, अपनी आय के लिए लाभांश पर बहुत अधिक निर्भर हैं। इन निवेशकों के लिए, उनके पोर्टफोलियो की डिविडेंड यील्ड उनके व्यक्तिगत वित्त पर एक सार्थक प्रभाव डाल सकती है, जिससे इन निवेशकों के लिए लंबे ट्रैक रिकॉर्ड और स्पष्ट वित्तीय ताकत के साथ लाभांश भुगतान करने वाली कंपनियों का चयन करना बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है। अन्य निवेशकों के लिए, लाभांश उपज कम महत्वपूर्ण हो सकती है, जैसे कि युवा निवेशकों के लिए जो विकास कंपनियों में अधिक रुचि रखते हैं जो अपनी कमाई को बरकरार रख सकते हैं और उनका उपयोग अपनी वृद्धि को वित्तपोषित करने के लिए कर सकते हैं।

Post a Comment

Blogger

Your Comment Will be Show after Approval , Thanks

Accounting Software

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: