एक व्यवसाय या व्यक्ति कई मूल्यवान संपत्ति का मालिक हो सकता है। लेकिन जैसा कि अभिव्यक्ति जाती है, नकद (Cash) अभी भी राजा(King) है। एक कंपनी अरबों डॉलर का राजस्व उत्पन्न कर सकती है, लेकिन अगर वह Liquid cash generate नहीं कर सकती है, तो उसे संघर्ष करना होगा। एक व्यक्ति के पास कई संपत्तियां या बेशकीमती कलाकृतियां हो सकती हैं, लेकिन एक वित्तीय आपात स्थिति में, वे जीवित रहने के लिए liquid Asset पर निर्भर रहेंगे।

किसी व्यवसाय या व्यक्ति के लिए वित्तीय मूल्य की कोई भी वस्तु एक संपत्ति मानी जाती है। तरल संपत्ति, हालांकि, ऐसी संपत्तियां हैं जिन्हें कानूनी निविदा के लिए आसानी से, सुरक्षित रूप से और जल्दी से आदान-प्रदान किया जा सकता है। आपकी इन्वेंट्री, प्राप्य खाते, और स्टॉक लिक्विड एसेट्स के उदाहरण हैं—जिन्हें आप जल्दी से हार्ड कैश में बदल सकते हैं

liquidity, या आपके व्यवसाय की संपत्ति को जल्दी से नकदी में बदलने की क्षमता, कई मोर्चों पर महत्वपूर्ण है। ये संसाधन आपको वित्तीय चुनौतियों का सामना करने, क्रेडिट सुरक्षित करने और अल्प सूचना के साथ देनदारियों को निपटाने में मदद करते हैं। व्यवसायों के लिए liquid और non-liquid property का संयोजन (combination) होना महत्वपूर्ण है।

एक तरल संपत्ति क्या है? [What is Liquid Asset?] [In Hindi]

एक Liquid Asset एक ऐसी Asset है जिसे कम समय में आसानी से नकदी में परिवर्तित किया जा सकता है। लिक्विड एसेट्स में कैश, मनी मार्केट इंस्ट्रूमेंट्स और मार्केटेबल सिक्योरिटीज जैसी चीजें शामिल हैं। व्यक्तियों और व्यवसायों दोनों को उनके निवल मूल्य (net worth) के एक हिस्से के रूप में तरल संपत्ति पर नज़र रखने से संबंधित हो सकता है। वित्तीय लेखांकन (Financial Accounting) के प्रयोजनों के लिए, एक कंपनी की तरल संपत्ति (Liquid Asset) को उसकी बैलेंस शीट पर वर्तमान संपत्ति के रूप में रिपोर्ट किया जाता है। Law of Supply क्या है?

'तरल संपत्ति' की परिभाषा [Definition of 'Liquidity Asset'] [In Hindi]

एक परिसंपत्ति (Asset) को तरल (liquid) कहा जाता है यदि उसके मूल्य में बिना किसी नुकसान के बेचना या नकदी में परिवर्तित करना आसान हो। परिभाषा के अनुसार, बैंक नोट और चेकिंग खाते सबसे अधिक तरल संपत्ति हैं।
Liquid Asset क्या है?

एसेट लिक्विडिटी क्यों महत्वपूर्ण है? [Why Liquid asset is important ? In Hindi]

वित्तीय आपातकाल के मामलों में तरलता (liquidity)महत्वपूर्ण है। जब आप कठिनाई का सामना करते हैं, तो आपके पास अपने घर को बाजार में रखने या दुर्लभ कलाकृति के अपने संग्रह को बेचने की प्रक्रिया से गुजरने का समय नहीं होगा। आपको धन की त्वरित पहुंच की आवश्यकता होगी ताकि आप अपनी आवश्यक चीजों का भुगतान कर सकें और अपने बिलों के शीर्ष पर बने रहें। एक गंभीर वित्तीय स्थिति में, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपकी कुल संपत्ति क्या है या आप कागज पर कितने अमीर हैं। क्या मायने रखता है कि आपके पास धन है या नहीं, जिस तक आप तुरंत पहुंच प्राप्त कर सकते हैं।

जब आप एक बंधक के लिए आवेदन कर रहे हैं, तो आपका ऋणदाता इस सटीक स्थिति पर विचार करेगा। वे आपके स्वामित्व की संपत्ति और वे कितने तरल(liquid) हैं, और यह निर्धारित करेंगे कि क्या आपके पास अपने बंधक भुगतान को कवर करने के लिए पर्याप्त आसानी से सुलभ धन है यदि आपको अस्थायी वित्तीय कठिनाई का सामना करना पड़ता है।

अंततः, तरल संपत्ति का पर्याप्त स्रोत होना एक स्वस्थ वित्तीय प्रोफ़ाइल होने का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। हम आम तौर पर कठिनाइयों का अनुमान नहीं लगा सकते हैं, जैसे नौकरी खोना या दुर्बल करने वाली बीमारी का विकास करना। वित्तीय संकट की स्थिति में जाने के लिए नकदी तैयार होने से इसे थोड़ा और अधिक प्रबंधनीय बना दिया जाएगा और आपको कुछ मानसिक शांति मिलेगी।

तरल संपत्ति के उदाहरण [Example of liquid asset in Hindi]

इस बिंदु पर, आप उन कारकों को समझते हैं जो एक परिसंपत्ति को तरल बनाते हैं, साथ ही साथ अपनी होल्डिंग्स का ट्रैक कैसे रखें। अब, हम और गहराई से खोज करेंगे: व्यापार जगत में तरल संपत्तियां क्या हैं?

यदि वे लागू होते हैं, तो इन संपत्तियों को अपने पोर्टफोलियो में जोड़ने पर विचार करें।
  • नकद या मुद्रा (Cash or Currency): आपके पास भौतिक रूप से मौजूद नकदी।
  • बैंक खाते (Bank Account) : आपके चेकिंग खाते या बचत खाते में पैसा।
  • प्राप्य खाते (Account Receivable) : आपके ग्राहकों द्वारा आपके व्यवसाय पर बकाया राशि।
  • म्यूचुअल फंड (Mutual Fund) : एक ऐसा फंड जो कई अलग-अलग निवेशकों के पैसे को एक विविध पोर्टफोलियो में जमा करता है।
  • मुद्रा बाजार खाते (Money Market Account) : एक प्रकार का कम जोखिम वाला, ब्याज देने वाला बचत खाता।
  • स्टॉक्स (Stocks): आपके पास जो शेयर हैं।
  • ट्रेजरी बिल, नोट्स और बांड: विभिन्न परिपक्वता तिथियों के साथ एक सुरक्षित और विश्वसनीय निवेश विकल्प, या वह तारीख जब निवेशक को अपना मूलधन वापस मिल जाएगा।
  • जमा प्रमाणपत्र (Certificates of Deposits) : एक निश्चित निकासी तिथि वाला बचत खाता।
  • प्रीपेड खर्च (Prepaid Expenses) : बीमा, किराया और अन्य बिल जो आपने तय समय से पहले चुकाए हैं।
  • सेवानिवृत्ति निवेश खाते (Retirement investment accounts) : 401 (के) एस, आईआरए, और अन्य खाते।

Post a Comment

Blogger

Your Comment Will be Show after Approval , Thanks

Sponsorship Ad

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: