दहनशील पदार्थ पर्याप्त ऑक्सीजन की उपस्थिति में जब पर्याप्त उष्मा, जो श्रृंखलाबद्ध प्रतिक्रिया को सुचारू रूप से चलाने में सक्षम हो, संपर्क में आता है, तो आग पैदा होती है। इनमें से किसी एक की अनुपस्थिति से आग पैदा नहीं हो सकती है। अगर आग एकबार जल जाती है यानी श्रृंखलाबद्ध प्रतिक्रिया शुरू हो जाती है तो जब तक ऑक्सीजन और दहनशील पदार्थ की उपस्थिति रहती है तब तक वह जलती और फैलती रहती है।
आग को ऑक्सीजन और ईंधन में से किसी एक को अलग कर बुझाया जा सकता है। आग पर पानी की पर्याप्त बौछार पड़ती है तो ईंधन को ऑक्सीजन की उपस्थिति में बाधा पड़ती है और आग बुझ जाती है। आग पर कार्बन-डाइऑक्साइड के प्रयोग से भी आग बुझाई जा सकती है। जंगल की आग बुझाने के लिए मुख्य ज्वाला से दूर छोटी छोटी ज्वाला पैदा कर ईंधन की आपूर्ति बंद की जाती है।

Why is the fire extinguished by water?

Combustible substance occurs in the presence of sufficient oxygen, when sufficient heat, which is able to run the chain reaction smoothly, comes in contact, then the fire arises. The absence of one of these can not cause fire. If the fire burns once it means that the chain reaction begins, it keeps on burning and spreading as long as the presence of oxygen and combustible substances remains.
Fire can be extinguished by oxygen and any of the fuels separately. If there is enough shower of water on the fire then the fuel gets obstructed in the presence of oxygen and the fire extinguishes. The use of carbon-dioxide on fire can also cause the fire to be quenched. To stop the fire from the main fire, the supply of fuel is stopped by creating small fires away.
Reactions:

Post a Comment

Blogger

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: