What is the Router in Networking (Hindi)

दरसल यह एसी डिवाइस है जो किसी नेटवर्क से आये डाटा को बड़ी समझदारी से पहचान कर भिभिन्न नेटवर्क पॉइंट या यूजर्स तक जाने की अनुमति देती है या रोक देती है इसमे कम से कम दो नेटवर्क्स का जुड़ा होना आवश्यक है अन्यथा इसके पास करने को कुछ नहीं है
      सही या तीव्रतम मार्ग का पता करने के लिए राऊटर “रूटिंग टेबल ” का प्रयोग करते है , इस टेबल में उपलब्ध सभी रूट और उनसे सम्बंधित जानकारी जैसे कुल दुरी , कुल समय आदि होती है
इसका एक अच्छा प्रयोग फ़ायरवॉल होता है फ़ायरवॉल किसी नेटवर्क में सुरक्षा व्यव्श्था को सही रखने के काम में आती है और यह हार्डवेयर सा सॉफ्टवेर किसी भी रूप में हो सकती है
      राऊटर टेबल और उसके रख रखाव के आधार पर राऊटर को दो मुख्य भागो में बाटा गया है

  • Static Router
  • Dynamic Router
स्टेटिक राऊटर एडमिनिस्ट्रेटर  दवरा निर्धारित की गयी टेबल का प्रयोग करते है जब्कि डायनमिक राऊटर स्वतः ही रूटिंग टेबल को बनाते है



ब्रिज : Networking Device



What is the Gate -Way in hindi (Networking)



सिग्नलों को पुरे विश्व में घूमते रहने में गेटवे बहुत मतवपूर्ण होता है गेटवे भी एक नेटवर्क डिवाइस है जो नेटवर्क के विभिन्न प्रकार के हिस्सों को आपस में कम्यूनिकेट करने में मदद करती है उदहारणतः इसका प्रयोग हम सामान्य पीसी नेटवर्क को मेनफ़्रेम कंप्यूटर नेटवर्क के साथ कम्यूनिकेट कराने के लिए करते हे नेटवर्क कार्य पद्दति में यह बहुत ही विस्तृत किरदार हे   
राऊटर : Networking Device



Reactions:

Post a Comment

Blogger

नए पोस्ट की जानकारी सीधे ई-मेल पर पायें

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: