एक अमूर्त संपत्ति क्या है? [What is Intangible Assets? In Hindi]

लेखांकन में, एक Intangible assets एक व्यवसाय के लिए दीर्घकालिक वित्तीय मूल्य वाला संसाधन है। यह कोई भौतिक वस्तु भी नहीं है।
कैम्ब्रिज डिक्शनरी के अनुसार अमूर्त का अर्थ कुछ ऐसा है जिसे छुआ या भौतिक रूप से देखा नहीं जा सकता है। अमूर्त संसाधन भौतिक रूप से मौजूद नहीं होते हैं, हालांकि उनका अभी भी मूल्य है।
Intangible assets के प्रकारों में व्यवसाय की प्रतिष्ठा, कॉपीराइट, ट्रेडमार्क और ब्रांड पहचान शामिल हैं।
Intangible assets व्यवसायों के लिए महत्वपूर्ण हैं क्योंकि वे प्रतिस्पर्धात्मक लाभ प्रदान कर सकते हैं और दीर्घकालिक लाभप्रदता में योगदान कर सकते हैं। उदाहरण के लिए, एक मजबूत ब्रांड किसी कंपनी को अपने उत्पादों या सेवाओं को अपने प्रतिस्पर्धियों से अलग करने और ग्राहक वफादारी बनाने में मदद कर सकता है। इसी तरह, मालिकाना तकनीक या पेटेंट की गई प्रक्रियाएँ किसी कंपनी को बाज़ार में एक अनूठा लाभ दे सकती हैं।
कई प्रकार की Intangible assets हैं जिन्हें आमतौर पर मान्यता दी जाती है। इसमे शामिल है:
  • बौद्धिक संपदा (Intellectual property): इसमें पेटेंट, ट्रेडमार्क, कॉपीराइट और व्यापार रहस्य शामिल हैं। पेटेंट आविष्कारों और नए उत्पादों की रक्षा करते हैं, जबकि ट्रेडमार्क ब्रांड नाम, लोगो और अन्य पहचान सुविधाओं की रक्षा करते हैं। कॉपीराइट किताबें, संगीत और कलाकृति जैसे रचनात्मक कार्यों की रक्षा करते हैं, और व्यापार रहस्य सूत्र, व्यंजनों और निर्माण प्रक्रियाओं जैसी गोपनीय जानकारी की रक्षा करते हैं।
  • सद्भावना (Goodwill): यह एक व्यवसाय के मूल्य को संदर्भित करता है जो सीधे अपनी मूर्त संपत्तियों से जुड़ा नहीं होता है। सद्भावना कंपनी की प्रतिष्ठा, ग्राहक संबंधों और कुशल कार्यबल जैसे कारकों से उत्पन्न हो सकती है। इसकी मात्रा निर्धारित करना मुश्किल हो सकता है और अक्सर इसे किसी व्यवसाय के समग्र मूल्यांकन में शामिल किया जाता है।
  • ग्राहक संबंध (Customer relationship): ये ऐसे संबंध हैं जो किसी व्यवसाय के अपने ग्राहकों के साथ होते हैं, जिसमें उनकी वफादारी और कंपनी के साथ व्यापार करना जारी रखने की इच्छा शामिल है। ग्राहक संबंधों को मापना मुश्किल हो सकता है, लेकिन वे कंपनी के लिए एक मूल्यवान संपत्ति हो सकते हैं।
  • सॉफ्टवेयर (Software): इसमें कंप्यूटर प्रोग्राम, डेटाबेस और अन्य डिजिटल संपत्तियां शामिल हैं जिनका उपयोग कंपनी के संचालन का समर्थन करने के लिए किया जाता है। सॉफ्टवेयर मालिकाना या व्यावसायिक रूप से उपलब्ध हो सकता है, और यह प्रौद्योगिकी या सॉफ्टवेयर विकास उद्योगों में कंपनियों के लिए एक महत्वपूर्ण संपत्ति हो सकती है।
  • ब्रांड्स (Brands): ये नाम, लोगो और अन्य प्रतीक हैं जो किसी कंपनी या उसके उत्पादों की पहचान करते हैं। ब्रांड एक मूल्यवान संपत्ति हो सकते हैं क्योंकि वे ग्राहकों की वफादारी बना सकते हैं और एक कंपनी को भीड़ भरे बाजार में खड़े होने में मदद कर सकते हैं।
Intangible assets से निपटने की चुनौतियों में से एक यह है कि उन्हें मूल्य देना मुश्किल हो सकता है। मूर्त संपत्तियों के विपरीत, जिनका उनके बाजार मूल्य या प्रतिस्थापन लागत के आधार पर आसानी से मूल्यांकन किया जा सकता है, Intangible assets अक्सर किसी विशेष कंपनी के लिए अद्वितीय होती हैं और निष्पक्ष रूप से मापना मुश्किल हो सकता है। इससे कंपनियों के लिए वित्तीय विवरणों में Intangible assets को शामिल करना या उन्हें ऋण के लिए संपार्श्विक के रूप में उपयोग करना चुनौतीपूर्ण हो सकता है।
एक अमूर्त संपत्ति क्या है? [What is Intangible Assets? In Hindi]
हालांकि, Intangible assets के मूल्यांकन के तरीके हैं जिनका उपयोग कंपनियों, निवेशकों और उधारदाताओं द्वारा किया जा सकता है। इन विधियों में बाज़ार में समान संपत्तियों के मूल्य का आकलन करना, भविष्य के नकदी प्रवाह का अनुमान लगाना शामिल हो सकता है जो संपत्ति के लिए जिम्मेदार हैं, या रॉयल्टी पद्धति या लागत बचत पद्धति से राहत जैसी विशेष मूल्यांकन तकनीकों का उपयोग करना।

आपके व्यवसाय के लिए अमूर्त संपत्ति का क्या मतलब है ? [What intangible assets mean for your business? In Hindi]

जबकि Intangible assets के सबसे आम उदाहरणों में पेटेंट और सॉफ्टवेयर शामिल हैं, वे मूल्य का कुछ भी हो सकता है जो भौतिक रूप से वास्तविक नहीं है (वित्तीय संपत्तियों को छोड़कर)। Intangible assets के मूल्य को समझने से आपके व्यवसाय को बढ़त मिलेगी। आप बेहतर तरीके से जानेंगे कि अपनी मौजूदा Intangible assets का उपयोग कैसे करें, साथ ही नए अधिग्रहण भी करें।
Intangible assets का मूल्य निर्धारित करना हमेशा आसान नहीं होता है। किसी संपत्ति पर बहुत अधिक मूल्य रखने से स्टॉक की कीमतों में कृत्रिम रूप से वृद्धि हो सकती है। यदि आपने उनका सही मूल्यांकन नहीं किया है तो आप नई संपत्ति प्राप्त करने के लिए बहुत अधिक भुगतान करने का जोखिम उठाते हैं। दूसरी ओर, आपकी मौजूदा संपत्तियों पर बहुत कम मूल्य रखने से मूल्यह्रास लेखांकन प्रभावित हो सकता है, और प्रतिस्पर्धी आपकी संपत्ति को कम कीमत पर हासिल करने का प्रयास कर सकते हैं। Perpetual Inventory System क्या है?
यदि आप इन कार्यों को अपने दम पर निपटाने में सहज महसूस नहीं करते हैं, तो एक अनुभवी एकाउंटेंट को नियुक्त करें। एक अच्छा एकाउंटेंट Intangible assets को परिशोधित कर सकता है ताकि आपका व्यवसाय ऑडिटिंग मुद्दों पर खुद को उजागर किए बिना लाभ को अधिकतम कर सके।

Post a Comment

Blogger

Your Comment Will be Show after Approval , Thanks

Ads

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: