लेखांकन में प्रासंगिकता क्या है? हिंदी में [What is Relevance in Accounting ? In Hindi]

Relevance लेखांकन में एक मौलिक अवधारणा है जो वित्तीय जानकारी की गुणवत्ता को संदर्भित करती है जो इसे निर्णय लेने वालों के लिए उपयोगी बनाती है। लेखांकन में, Relevance का अर्थ है कि वित्तीय जानकारी वित्तीय विवरणों के उपयोगकर्ताओं की निर्णय लेने की प्रक्रिया में अंतर लाने में सक्षम होनी चाहिए। इसका मतलब यह है कि वित्तीय जानकारी उपयोगकर्ताओं की विशिष्ट निर्णय लेने की जरूरतों के लिए समय पर, सटीक और उपयोगी होनी चाहिए।
Relevance महत्वपूर्ण है क्योंकि यह वित्तीय जानकारी के उपयोगकर्ताओं को सूचित निर्णय लेने में मदद करती है। यदि वित्तीय जानकारी प्रासंगिक नहीं है, तो यह निर्णय लेने वाले के लिए बहुत कम या कोई उपयोग नहीं है। उदाहरण के लिए, यदि किसी कंपनी के वित्तीय विवरण अप-टू-डेट नहीं हैं, तो निर्णय लेने वाले कंपनी की वित्तीय स्थिति के आधार पर सूचित निर्णय लेने में सक्षम नहीं हो सकते हैं। इसी तरह, यदि वित्तीय विवरण पर्याप्त विवरण प्रदान नहीं करते हैं या समझने में कठिन हैं, तो निर्णयकर्ता वित्तीय जानकारी के आधार पर सूचित निर्णय लेने में सक्षम नहीं हो सकते हैं।
लेखांकन में, Relevance भौतिकता की अवधारणा से निकटता से संबंधित है। भौतिकता वित्तीय विवरणों के उपयोगकर्ता के लिए किसी वस्तु या घटना के महत्व को संदर्भित करती है। भौतिकता किसी वस्तु या घटना के आकार और प्रकृति और वित्तीय विवरणों पर इसके संभावित प्रभाव से निर्धारित होती है। भौतिक वस्तुएँ या घटनाएँ वे हैं जिनमें वित्तीय विवरणों के उपयोगकर्ताओं के निर्णयों को प्रभावित करने की क्षमता होती है।
What is Relevance in Accounting  In Hindi
Relevance का सिद्धांत लेखांकन के विभिन्न पहलुओं में लागू होता है, जैसे वित्तीय रिपोर्टिंग, लेखा परीक्षा और प्रबंधकीय लेखांकन। इन क्षेत्रों में Relevance कैसे लागू की जाती है, इसके कुछ उदाहरण यहां दिए गए हैं:
  • वित्तीय रिपोर्टिंग (Financial Reporting): किसी कंपनी के वित्तीय विवरणों को प्रासंगिक जानकारी प्रदान करनी चाहिए जो उपयोगकर्ताओं को सूचित निर्णय लेने में मदद करती है। उदाहरण के लिए, एक कंपनी की बैलेंस शीट को अपनी संपत्ति, देनदारियों और इक्विटी के बारे में जानकारी प्रदान करनी चाहिए, जो कि निवेशकों, लेनदारों और अन्य हितधारकों के लिए प्रासंगिक हैं। आय विवरण में कंपनी के राजस्व, व्यय और शुद्ध आय के बारे में जानकारी प्रदान करनी चाहिए, जो निवेशकों और अन्य उपयोगकर्ताओं के लिए प्रासंगिक हैं।
  • लेखापरीक्षा (Auditing): लेखापरीक्षकों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वित्तीय विवरण महत्वपूर्ण गलत विवरणों से मुक्त हैं जो वित्तीय विवरणों के उपयोगकर्ताओं के निर्णयों को प्रभावित कर सकते हैं। लेखा परीक्षकों को वित्तीय विवरणों में प्रस्तुत वित्तीय जानकारी की Relevance का भी मूल्यांकन करना चाहिए। उदाहरण के लिए, यदि किसी कंपनी की महत्वपूर्ण आकस्मिक देयता है, तो लेखा परीक्षक को यह आकलन करना चाहिए कि क्या यह जानकारी वित्तीय विवरणों के उपयोगकर्ताओं के लिए प्रासंगिक है।
  • प्रबंधकीय लेखा (Managerial accounting) : प्रबंधक कंपनी के संचालन को प्रभावित करने वाले निर्णय लेने के लिए वित्तीय जानकारी का उपयोग करते हैं। वित्तीय जानकारी की Relevance यह सुनिश्चित करने के लिए महत्वपूर्ण है कि प्रबंधक सूचित निर्णय ले रहे हैं। उदाहरण के लिए, यदि कोई प्रबंधक एक नई उत्पाद श्रृंखला में निवेश करने पर विचार कर रहा है, तो प्रदान की गई वित्तीय जानकारी इस निर्णय के लिए प्रासंगिक होनी चाहिए, जैसे अपेक्षित राजस्व, लागत और नई उत्पाद श्रृंखला से जुड़े लाभ।
Relevance के अलावा, वित्तीय जानकारी भी विश्वसनीय, तुलनीय और समझने योग्य होनी चाहिए। विश्वसनीयता का अर्थ है कि वित्तीय जानकारी सटीक है और वित्तीय विवरणों के उपयोगकर्ताओं द्वारा इस पर भरोसा किया जा सकता है। तुलनात्मकता का अर्थ है कि वित्तीय जानकारी को इस तरह प्रस्तुत किया जाता है जिससे उपयोगकर्ता विभिन्न कंपनियों या विभिन्न अवधियों के वित्तीय प्रदर्शन की तुलना कर सकें। बोधगम्यता का अर्थ है कि वित्तीय जानकारी को इस तरह प्रस्तुत किया जाता है कि वित्तीय विवरणों के उपयोगकर्ताओं द्वारा इसे आसानी से समझा जा सके। Cost Method क्या है?
अंत में, Relevance accounting में एक मौलिक अवधारणा है जो वित्तीय जानकारी की गुणवत्ता को संदर्भित करती है जो इसे निर्णय लेने वालों के लिए उपयोगी बनाती है। उपयोगकर्ताओं की विशिष्ट निर्णय लेने की जरूरतों के लिए प्रासंगिक वित्तीय जानकारी समय पर, सटीक और उपयोगी होनी चाहिए। Relevance का सिद्धांत लेखांकन के विभिन्न पहलुओं में लागू होता है, जैसे वित्तीय रिपोर्टिंग, लेखा परीक्षा और प्रबंधकीय लेखांकन। उपयोगी होने के लिए, वित्तीय जानकारी भी विश्वसनीय, तुलनीय और समझने योग्य होनी चाहिए।

Post a Comment

Blogger

Your Comment Will be Show after Approval , Thanks

Ads

 
[X]

Subscribe for our all latest News and Updates

Enter your email address: